Spread the love

लिपोमा/ चर्बी की गांठ : Lipoma / skin lumps Treatment in hindi

लिपोमा चर्बी की गांठ, जो त्वचा के निचले स्तर पर विकसित होती है. ये छोटी, मुलायम और रबर जैसी होती है जो दबाने पर दब जाती है और खिसक भी जाती है.

ये गांठ अधिकतर कंधो में, घुटनों में, जन्घो में, बाह आदि अंगों में पायी जाती है. वैसे इन गांठो में दर्द नही होता पर दिखने में ये गांठे बहुत ही भद्दी नजर आती है. लिपोमा की गांठ दर्द तब देती है, जब इन गांठो की जड़ नसों तक पहुच जाती है.

(और पढे : सेक्स लाइफ की समस्या )

इन गांठो से डरने की जरुरत नही होती की ये कैंसर रहित गांठे होती है. न ही इनमे दर्द होता है या अन्य तरह की कई परेशानी होती है.

चर्बी की गांठ के कई कारण है जिनको अभी पूरी तरह ज्ञात भी नही किया गया है. अकसर देखा गया है की चर्बी की गाठ यानि लिपोमा अनुवांशिक कारणों से होती है. एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को हो सकती है. consult online

लिपोमा की गांठ पीले रंग की भी हो सकती है. कभी कभी बेरंग भी होती है. ये त्वचा के हल्का सा नीचे होती है.

बिना डॉक्टर के जांच के, आप ये नही पता लगा सकते की आपके शरीर की गांठ लिपोमा है या कुछ और. इसलिए शरीर के किसी भी अंग में सुजन या गांठ दिखे तो डॉक्टर को जरुर दिखा ले.

(और पढे: आँखों की हर समस्या का घरेलु और होम्योपैथिक उपचार )

लिपोमा की गांठ के लिए डॉक्टर द्वारा ऑपरेशन का सुझाव भी दिया जाता है. परन्तु ऑपरेशन करने के बाद भी ये गांठ वापस आ जाती है.
होमियोपैथी में लिपोमा का बिना ऑपरेशन जड़ से उपचार किया जाता है. इसलिए होम्योपैथिक चिकित्सा ही अजमाए और लिपोमा की गांठ से जड़ से छुटकारा पाए.