Spread the love

जाने पीलिया रोग को :

पीलिया के गंभीर रोग है. ये रोग लीवर से जुड़ा है यानि पीलिया रोग हमारे लीवर में समस्या आने के कारण होता है. लीवर हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है. इस रोग के  कारण रोगी का शरीर पीला पड़ जाता है. रोगी की आंखे, नाख़ून पीले हो जाते है. इस पीलेपन को बेलिरुबिन भी कहा जाता है.
नवजात शिशु में पीलिया रोग आम है. पर ये किसी अन्य उम्र में भी हो सकता है. हमारे शरीर के रेड ब्लड सेल्स जब समय से पहले नष्ट हो जाते है तो भी बेलीरुबिन प्रभावित होता है.
इस रोग के होने पर शरीर में रक्त की भी कमी हो जाती है. इसलिए पीलिया रोग बहुत खतरनाक भी कहलता है.

पीलिया रोग की

पीलिया के लक्षण :

इस रोग के मरीज में सबसे पहला लक्षण है पीली त्वचा. इसके साथ ही कुछ अन्य लक्षण जैसे :

थकान
खुजली
अनिंद्रा
वजन कम होना
बुखार
पीले रंग का पेशाब
उलटी होना
पेट के ऊपर हिस्से में दर्द होना आदि लक्षण नजर आते है.

खून की जाच द्वारा इस रोग की जाचं की जा सकती है.

sahas homeopathic

किन किन कारणों से हो सकता है पीलिया :

इस रोग के  रोगी में बीलीरुबिन की मात्रा रक्त में अधिक होने के कारण होता है. इसके कारण त्वचा का रंग पीला दिखता है.इस रोग  के कुछ मुख्य कारण है:
लीवर रोग
हेपेटाइटिस
पित्त की थैली में पथरी आदि

होम्योपैथिक दवा का उपयोग करके इस रोग से छुटकारा पाया जा सकता है. पर साथ ही साथ खान पान का भी ध्यान रखना चाहिये. इस रोग में शराब का सेवन न करें, तेल का उपयोग न करें और परेशानी हो तो नजदीकी होम्योपैथिक डॉक्टर से संपर्क करें
निचे दी गयी विडियो में डॉक्टर नवीन चन्द्र पाण्डेय जी द्वारा पीलिया रोग की जानकारी व दवा बताई गयी है:

Ask A Doctor

अगर आप किसी भी रोग से छुटकारा पाना चाहते है, तो आप हमारे सुयोग्य और अनुभवी डॉक्टर से परामर्श के सकते है. डॉक्टर से परामर्श हेतु consultancy fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षणों की पूरी जानकारी ली जाएगी और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और लेने की विधि बताई जाएगी.
इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर में संपर्क करें : +91-7249999404
फीस का भुगतान आप paytm, google pay या डेबिट कार्ड की मदद से कर सकते है.