Melasma

यदि किसी के चेहरे पर झाइयां हो तो कही न कही यह उनके आत्मविश्वास को भी प्रभावित करता है। चेहरे पर पड़ने वाली झाईया को मेलाज्मा भी कहा जाता है, जब झाइयां ज्यादा बढ़ जाती है तो ये स्थिति उत्पन होती है ।
चेहरे पर पड़ने वाली झाइयों का कारण आपके पेट में गड़बड़ी को भी दर्शाता है झाइयां दूर करने के लिए इन्सान का अन्दर से स्वस्थ रहना भी जरुरी है। इसके लिए आपको संतुलित आहार, चैन की नींद, भरपूर्ण पोषण व ढेर सारा पानी पिने की आवश्यकता होती है, अपने आहार में दूध दही हरी पत्तेदार सब्जी सेब और सलाद आदि को शामिल करें ।
झाइयां होने पर सभी बाहरी पोषण पर तो ध्यान देते है परन्तु शरीर के अन्दर के पोषण की तरफ किसी का ध्यान नही जाता है, अन्दर के पोषण का अर्थ हमारे खान पान को लेकर है शरीर में आये हार्मोनल बदलाव के कारण यह होता है उस समय शरीर को पोषण तत्वों की भी आवश्यकता है, कई बार गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में ये स्थिति ज्यादा देखने को मिलती है, इसलिए आपनी सेहत का ध्यान रखना बहुत जरुरी है। वैसे हमारा झाइयों पर विडियो बन चूका है, परन्तु आज इनकी आगे की स्थिति यानि झाइयां चेहरे में कही भी जैसे गलों पर, माथे पर, नाक आदि में काफी मात्रा में बढ़ जाता है तो इस स्थिति में आप होम्योपैथिक दवाइयों का प्रयोग करें ।

दवाइयां : Sepia 30, में 2 बुँदे सुबह, दोपहर, शाम को दे (केवल 10 दिन ) इसके साथ B.c की 4 गोली और Ferrum Meto 3x की 2 गोली एक साथ मिला कर दे, सुबह दोपहर , शाम। इसके साथ Berberis Aquitolium Q की आधे कप पानी में 10 से 15 बुँदे सुबह, दोपहर, शाम को दें ।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *